ओपन एयर थिएटर अगर समय पर बन जाता तो आज जाणता राजा जैसे कई बड़े आयोजन हो चुके होते||

Posted on 13/04/2016

jodhpur-open-theatre-56fc9aa6e92d4_l

राजस्थान आवासन मंडल के तत्कालीन अध्यक्ष मानसिंह देवड़ा ने अशोक उद्यान में ओपन एयर थिएटर का खूबसूरत सपना देखा था,जो उनकी जिंदगी में साकार न हो सका। आर्किटेक्ट ने इसे हकीकत में बदलने का ताना बाना बुना था।

जिसमें दर्शक दीर्घा, प्लाजा वर्क,स्टोन वर्क, पीसीसी,अर्थ फिलिंग, सोलिंग, फ्लोरिंग, पेन्टिंग, स्कर्टिंग, सेलिंग प्लास्टर,ब्रिक पार्टिशन,रैम्प, शटरिंग, जेट फव्वारे व लाइट साउंड रूम क ा काम शामिल था।

काम अधूरा रह गया तो इसके लिए देखे गए कलाकारों के सपने भी टूट गए और जनता की नजर में हकीकत से बरसों तक पर्दा न हटा।

जानकारों का कहना है कि हाउसिंग बोर्ड इसे संभाल नहीं सका। यदि आवासन मंडल का हिसाब किताब देखें तो अकेले बकाया सर्विस टैक्स और आर्किटेक्ट सर्विस टैक्स पर ही काफ ी राशि खर्च हो गया।

यदि आवासन मंडल तत्कालीन रेट और समय के अनुरूप कार्य करवाता तो यह कार्य समय पर और तय राशि में पूरा हो सकता था।

ऐसे बढ़ती गई लागत

आवासन मंडल प्रशासन ने इसकी निर्माण लागत का सही सही आकलन नहीं किया। मंडल की मानें तो इसकी राशि बकाया कार्य व बीएसआरआइटम की लागत,नॉन बेसिक शिड्यूल रेट,आर्किटेक्ट फीस, फिर आर्किटेक्ट फीस पर सर्विस टैक्स, बकाया कार्य के सर्विस टैक्स के नाम पर खर्च हुई तो इसका बजट भी बढ़ता गया।

तभी तो अब इसकी कुल कॉस्ट 5.71 करोड़ रुपए बता रहा है। यदि यह थिएटर समय पर पूरा बन कर तैयार हो जाता तो अब तक तो यहां कई बड़े आयोजन हो चुके होते। पिछले दिनों जाणता राजा जैसे बड़े आयोजनों के लिए रावण का चबूतरा का चयन किया गया था।

इस तरह खर्च होंगे 5.71 करोड़

बकाया कार्य व बीएसआर आइटम की लागत 3. 48 करोड़

अतिरिक्त लागत 20 प्रतिशत 9. 73 लाख

नॉन बेसिक शिड्यूल रेट 76. 54 लाख

अनुमानित बढ़ोतरी 10 प्रतिशत 49. 49 लाख

आर्किटेक्ट फीस 2 प्रतिशत 10. 88 लाख

आर्किटेक्ट फीस पर सर्विस टैक्स 12.36 प्रतिशत 13 हजार रुपए

बकाया कार्य का सर्विस टैक्स 14 लाख 84 हजार 781.73 रुपए।

(स्रोत: आवासन मंडल प्रोजेक्ट इंजीनियर व  इंजीनियर का 2013 में बनाया चार्ट )

1 Comment

  • Profile photo of takshendra sharma

    takshendra sharma

    27/04/2016

    जोधपुर के अशोक उद्यान का ओपन एयर थिएटर भी एक विरासत की हैसियत रखता है। अपनी खूबसूरत बनावट के कारण यह पेरिस, वेल्स और जिनेवा की याद दिलाता है।

Leave a Reply