Margashirsha Amavasya 2019: पितृ दोष दूर करने के लिए क्या करे? जानिए मार्गशीर्ष अमावास्या व्रत, पूजा विधि व महत्व- AapnoJodhpur.com

Posted on 26/11/2019

भगवान ​श्री​कृष्ण के ​प्रिय मार्गशीर्ष महीने की अमावस्या को मार्गशीर्ष अमावस्या कहते हैं। इस अमावस्या को अगहन अमावस्या या श्राद्धादि अमावस्या के नाम से भी जाना जाता है, जिसका महत्व अत्यधिक माना गया है। मार्गशीर्ष माह में मां लक्ष्मी की विशेष पूजा होती है। Margashirsha Amavasya 2019, 26 नवंबर दिन मंगलवार को है। हिन्दू धर्म में अमावस्या का खास महत्व है। मार्गशीर्ष अमावस्या के दिन पितरों की पूजा का विधान है।

जिस प्रकार पितृपक्ष की अमावस्या को सर्वपितृ अमावस्या के रूप में मनाया जाता है, ठीक उसी तरह मार्गशीर्ष माह की अमावस्या के दिन पितरों के निमित्त व्रत रखने और जल से तर्पण करके पितरों को प्रसन्न किया जा सकता हैं। पौराणिक शास्त्रों के अनुसार इस दिन पूजा करने से पितृदोष का निवारण होता है और पूर्वजों का आशीर्वाद परिवार पर बना रहता है।

Read More on AapnoJodhpur.com

Leave a Reply