Mahesh Navami 2019: माहेश्वरी समाज के 5152वें उत्पत्ति दिवस का पर्व – AapnoJodhpur.com

Posted on 11/06/2019

Mahesh Navami 2019

माहेश्वरी वंशोत्पत्ति पर्व ‘महेश नवमी’ प्रतिवर्ष ज्येष्ठ माह में शुक्ल पक्ष की नवमी तिथि को मनाया जाता है। मान्यता के अनुसार माहेश्वरी समाज की उत्पत्ति भगवान महेश के वरदान स्वरूप मानी गई है। महेश नवमी ‘माहेश्वरी धर्म‘ में विश्वास करने वाले माहेश्वरी लोगों का प्रमुख पर्व है। माहेश्वरी समाज की उत्पत्ति का पर्व ‘महेश नवमी’ मुख्य रूप से भगवान महेश (महादेव) और माता पार्वती की आराधना को समर्पित है।

इस साल Mahesh Navami 2019,  माहेश्वरी समाज के 5152वें उत्पत्ति दिवस 11 जून मंगलवार को हैं। धर्मग्रंथों के अनुसार माहेश्वरी समाज के पूर्वज क्षत्रिय (Rajput) वंश के थे। माहेश्वरी का अर्थ हुआ – महेश यानी शंकर और वारि यानी समुदाय या वंश, जिस पर भगवान शिव की कृपा है। इसलिए माहेश्वरी समाज के लोग, शिव परिवार यानी (भगवान महेशमाता पार्वती एवं गणेशजी) को अपना कुलदेवता मानते हैं। समस्त माहेश्वरी समाज इस दिन भगवान शंकर और माता पार्वती के प्रति पूर्ण भक्ति और आस्था प्रगट करता है और यह उत्सव बड़े ही धूम- धाम से मनाया जाता है।

Read More on AapnoJodhpur.com

Leave a Reply