Sheetla Ashtami 2019: शीतला माता पूजन विधि, शीतला अष्टमी व बसौड़ा का महत्व – AapnoJodhpur.com

Posted on 28/03/2019

Sheetla Ashtami Mandir

Sheetla Ashtami 2019: शीतला अष्टमी 2019 का पर्व चैत्र मास के कृष्ण पक्ष की अष्टमी को मनाया जाता हैं। इस साल Sheetla Ashtami 2019, 28 मार्च 2019, गुरूवार के दिन हैं। कुछ लोग शीतला सप्तमी भी पूजते हैं, शीतला सप्तमी 2019 शीतला सप्तमी 2019 का पर्व, 27 मार्च 2019, बुधवार को हैं। शीतला अष्टमी पर शीतला माता का पूजन किया जाता है और बसौड़ा का प्रसाद लगाया जाता है।

शीतला मां की पूजा सूर्य उगने से पहले ही कर ली जाती है और इन्‍हें प्रसाद के रूप में ठंडा व बासी भोजन, दही, राब, सोगरा, बाजरी और घी इत्यादि चढ़ाया जाता है। शीतला अष्टमी के दिन घर में अग्नि जलाना निषिद्ध होता है। इसलिए लोग अपने लिए भी एक दिन पहले ही खाना बना लेते हैं और शीतलाष्‍टमी के दिन बासी खाना ही खाते हैं।

शीतला माता का वर्णन स्कंद पुराण में भी मिलता है। इसके अनुसार देवी शीतला को दुर्गा और पार्वती का अवतार माना गया है और इन्हें रोगों से उपचार की शक्ति प्राप्त है। घरों में सप्तमी के दिन कई तरह के पकवान- हलवापूरीकेर सांगरी की सब्जीदही बड़ापकौड़ी, पुए रबड़ीराबरीचावलसोगरा, आदि बनाए जाते हैं। अगले दिन अष्टमी की सुबह महिलाएं इन चीजों का भोग शीतला माता को लगाकर परिवार की सुख-समृद्धि की कामना करती हैं। इस दिन घर के सदस्य भी बासी भोजन प्रसाद के रूप मे ग्रहण करते हैं। इसी वजह से शीतला अष्टमी को बासौड़ा पर्व भी कहा जाता है।

Read More on AapnoJodhpur.com

Leave a Reply