बसंत पंचमी पूजा-विधि, मंत्र और महत्व – AapnoJodhpur.com

Posted on 11/02/2019

Basant Panchami 2019माघ मास की शुक्ल पक्ष की पंचमी को बसंत पंचमी मनाई जाती है। बसंत पंचमी (Basant Panchami) का दिन मां सरस्वती (Saraswati) को समर्पित होता है। इस दिन विद्या की देवीवीणावादिनी मां सरस्वती का जन्‍म हुआ था। माता सरस्वती को ज्ञानसंगीत और कला की देवीमाना जाता है। बसंत पंचमी को श्री पंचमी (Shri Panchami) और सरस्वती पंचमी (Saraswati Panchami) भी कहा जाता है। इस वर्ष Basant Panchami 2019, रविवार, 10 फरवरी को है।

वहीं, कुछ लोग बसंत पंचमी के दिन प्रेम के देवता कामदेव (Kamadeva) की भी पूजा करते हैं। हिन्दू मान्यता के अनुसार, विद्या की देवी सरस्वती के अवतरण का यह दिवस ऋतु परिवर्तन का संकेत भी है। Basant Panchami marks the beginning of the spring season – Basant means spring and Panchami means “the fifth day”. बसंत पंचमी के दिन से ही बसंत ऋ‍तु प्रारंभ होती है। बसंत पंचमी के बाद से ही हर तरफ हरियाली नज़र आती है और प्रकृति की खूबसूरती निखर जाती है।

Read more on AapnoJodhpur.com

Leave a Reply