Sharad Purnima 2018: शरद पूर्णिमा महत्व, चन्द्रमा से होगी अमृत की वर्षा – AapnoJodhpur

Posted on 24/10/2018

Sharad Poornima 2018

आश्विन माह के शुक्लपक्ष की पूर्णिमा को शरद पूर्णिमा कहा जाता है। Sharad Purnima 2018, 24 अक्‍टूबर बुधवार को है और यह 23 अक्टूबर रात से ही शुरू हो जाएगी। शरद पूर्णिमा (Sharad Purnima) का हिंदू धर्म में खासा महत्‍व बताया गया है। माना जाता है कि इस रात को चांद से अमृत बरसता है। इसे कोजागर पूर्णिमारास पूर्णिमाकौमुदी व्रत के नाम से भी जाना जाता है। इस दिन उजले चावल की खीर बनाकर आसमान के नीचे रखने और बाद मे खाने की परंपरा है।

हेमंत ऋतु आज से ही शुरू होती है। कहते हैं इस दिन चंद्रमा की किरणों में अमृत भर जाता है और ये किरणें हमारे लिए बहुत लाभदायक होती हैं। दरअसल पौराणिक मान्यताओं के मुताबिक मां लक्ष्मी का जन्म इसी दिन हुआ था। साथ ही भगवान कृष्ण ने गोपियों संग वृंदावन के निधिवन में इसी दिन रास रचाया था।

Link to Full Article on ApnoJodhpur

Leave a Reply