जैसलमेर में पर्यटकों को हवाई सेवा उपलब्‍ध कराने एवं पर्यटन क्षेत्र की उन्‍नति के लिए

Posted on 13/01/2016

jaisalmer-main-img
जैसलमेर में पर्यटकों को सुविधा अतारांकित श्री मानिक चन्द सुराना
प्रश्‍न- 1. क्‍या जैसलमेर जिले में तीन लाख से अधिक यात्रियों की आवाजाही की क्षमता रखने वाले जैसलमेर का सिविल एयरपोर्ट अनुपयोगी बना हुआ है ? यद‍ि हां, तो इसमें मुख्‍य कारण क्‍या हैं ?
2. क्‍या जैसलमेर एयरपोर्ट के निर्माण के बाद भी देशी-विदेशी पर्यटकों को हवाई जहाज में यात्रा करने की आधारभूत सुविधा प्रदान न करना केन्‍द्र सरकार व अन्‍य राज्‍य सरकार की पर्यटन के प्रति उदासीनता का द्योगक है ?
3. क्‍या राज्‍य सरकार गत 21 माह में भारत सरकार की सिविल एविएशन मिनिस्ट्री का ध्‍यान इस पर्यटन शहर में हवाई सुविधा तत्‍काल प्रदान किये जाने की ओर आकर्षित किया है ? यदि हां, तो इस संबंध में जो पत्राचार किये गये हैं, उनकी प्रतियां सदन की मेज पर रखें।
उत्तर- 1- जैसलमेर में मुख्‍य रूप से किसी अनुसूचित एयरलाईन द्वारा अपनी नियमित उडान सेवा शुरू न किये जाने के कारण नए सिविल एयर टर्मिनल से प्रचालन शुरू नहीं हो पाया है। यद्धपि पुराने टर्मिनल से चार्टर उडानों का प्रचालन नियमित रूप से किया जा रहा है।

 

2- जैसलमेर में देशी विदेशी पर्यटकों को हवाई सेवा उपलब्‍ध कराने एवं पर्यटन क्षेत्र की उन्‍नति के लिए ही भारतीय विमानपत्‍तन प्राधिकरण द्वारा लगभग रू. 58 करोड मात्र खर्च कर नए सिविल टर्मिनल का निर्माण कराया गया है। यहां से शीघ्र नियमित उडान सेवा चालू कराने हेतु लगातार प्रयास किए जा रहे हैं।

 

3- हां, इसके लिये राज्‍य सरकार व निदेशक, सिविल एयरपोर्ट द्वारा निरन्‍तर प्रयास किये जा रहे हैं।

Leave a Reply