अशोक उध्यान ओपन थियेटर का दर्द

Posted on 30/03/2016

जोधपुर।शहर के पाल रोड स्थित सम्राट अशोक उद्यान में अधूरे पड़े ओपन एयर थिएटर के मामले में राजस्थान पत्रिका के अभियान ‘थिएटर मांगे जिंदगीÓ पर राजस्थान हाईकोर्ट ने स्वप्रेरणा से प्रसंज्ञान लिया है। वरिष्ठ न्यायाधीश गोविन्द माथुर व न्यायाधीश डॉ. विनीत कोठारी की खण्डपीठ ने मंगलवार को तीन साल काम चला, अब दस साल से अधूरा पड़ा शीर्षक से पत्रिका में प्रकाशित खबर पर राज्य सरकार व राजस्थान आवासन मण्डल को नोटिस जारी करते हुए जवाब तलब किया है। पत्रिका ने ‘थिएटर मांगे जिंदगीÓ अभियान में सिलसिलेवार खबरें प्रकाशित कर यह मु²ा प्रमुखता से उठाया था।

जस्टिस माथुर व जस्टिस कोठारी की खण्डपीठ ने मंगलवार को इस सम्बन्ध में राज्य सरकार व आवासन मण्डल को नोटिस जारी कर 21 अप्रेल तक जवाब पेश करने के निर्देश दिए। खण्डपीठ ने राज्य सरकार की ओर से उपस्थित अतिरिक्त महाधिवक्ता डॉ. पुष्पेन्द्रसिंह भाटी को नोटिस थमाते हुए तथ्यात्मक रिपोर्ट पेश करने को कहा है। वहीं अधिवक्ता संदीप शाह और हेमंत जैन को मामले में न्यायमित्र नियुक्त किया है।

सरकार से सवाल

खण्डपीठ ने सरकार से पूछा है कि किस कारण से पिछले दस वर्ष से ओपन थिएटर जैसे प्रोजेक्ट का कार्य अधूरा पड़ा है। जबकि 14 वर्ष पहले करीब 9058 वर्ग मीटर क्षेत्र में करीब 181.20 लाख रुपए की लागत से इसका कार्य हुआ था। थिएटर को 27 जुलाई, 2003 तक शुरू भी करना था, लेकिन किन परिस्थितियों में कार्य रोका गया तथा अब इसे पूरा करने की क्या योजना है। सरकार को इन सभी बिन्दुओं पर हाईकोर्ट में तथ्यात्मक रिपोर्ट पेश करनी है।

– See more at: http://www.patrika.com/news/jodhpur/the-court-understood-the-pain-of-theater-1254272/#sthash.xqolEL8i.dpuf

1 Comment

  • Profile photo of Pritam Joshi

    Pritam Joshi

    01/04/2016

    Vasundhra Raje got time to change this park name…but after that she forget to work on Park and Open Theater

Leave a Reply